नौकरी में नहीं मिल रही है सफलता तो करें ये उपाय, मिलेंगे शुभ परिणाम

By Tami

Published on:

नौकरी

धर्म संवाद / डेस्क : आज के समय में नौकरी पाना और नौकरी में उन्नति करना आसान नहीं. कड़ी मेहनत के बावजूद कभी कभी सफलता हासिल नहीं होती . ऐसे में व्यक्ति हताश और निराश हो जाता है. व्यक्ति को समझ नहीं आता है कि इतनी मेहनत के बावजूद भी सफलता क्यों नहीं मिल पा रही है. ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक़ आपका कर्म करना जितना आवश्यक होता है उतनी ही आवश्यक भाग्य का साथ देना भी होता है। अगर आपका भाग्य आपका साथ नहीं दे रहा तो ये उपाय अपनाय.

यह भी पढ़े : बच्चों का नहीं लगता है पढाई में मन, तो स्टडी रूम के लिए आजमायें ये वास्तु टिप्स

भगवान शिव के सिर पर चंद्रमा वाली तस्वीर या मूर्ति का पूजन करें. साथ में रुद्राक्ष की माला से पंचाक्षरी मंत्र का जाप करें. माना जाता है कि ऐसा करने से चंद्रमा के कारण नौकरी में आ रही दिक्कतों का निवारण हो जाता है.

यदि आप नौकरी की तलाश में हैं और नौकरी मिलने में बाधाएं आ रही हैं तो सोमवार के दिन व्रत रखना चाहिए और किसी शिव मंदिर में जाकर शिवलिंग पर अभिषेक करने के साथ ही अक्षत अर्पित करने चाहिए.

स्त्रों में सूर्य को जल देना बहुत लाभप्रद माना गया है. ऐसा करने से आपके अंदर आत्मविश्वास बढ़ता है, जिसका फायदा आपको कार्यक्षेत्र में देखने को मिलता है. नौकरी प्राप्त करने के लिए या फिर नौकरी में उन्नति और लाभ के लिए सूर्य को जल दें. 

गणेश जी को बुद्धि और ज्ञान का देवता माना जाता है. उनकी पूजा करने से बुद्धि तेज होती है और नौकरी पाने में आसानी होती है. हर बुधवार को गणेश जी की पूजा करें सफलता अवश्य मिलेगी.

यह भी पढ़े : घर में कहाँ रखे कूड़ादान, जाने क्या कहता है वास्तु

हनुमान जी को संकटमोचक कहा जाता है. उनकी पूजा करने से सभी तरह के संकटों से मुक्ति मिलती है.मंगलवार को हनुमान जी की पूजा करें और उन्हें लाल गुलाब का फूल अर्पित करते हुए हनुमान चालीसा और बजरंग बाण का पाठ करें.

यदि आपके कार्यों और नौकरी में बाधाएं बनी हुई हैं और लगातार प्रयास करने पर भी बार-बार असफलता हाथ लग रही है तो आपको शनिदेव का पूजन करना चाहिए. प्रत्येक शनिवार को शनिदेव के लिए सरसों के तेल का दीपक प्रज्वलित करना चाहिए और ‘ऊं शं शनैश्चराय नम:’ का कम से कम 108 बार जाप अवश्य करना चाहिए. 

Tami

Tamishree Mukherjee I am researching on Sanatan Dharm and various hindu religious texts since last year .