अयोध्या में रामलला के बाद अब श्रीलंका में बनेगा माता सीता का मंदिर

By Tami

Published on:

श्रीलंका में बनेगा मां सीता का मंदिर

धर्म संवाद / डेस्क : 22 जनवरी 2024 को राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा हुई. अब खबर आ रही है कि श्रीलंका में माता सीता का मंदिर बनने वाला है. जी हा मध्य प्रदेश के सीएम डॉ. मोहन यादव ने इस बात की पुष्टि की है. उन्होंने कहा है कि पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ये निर्णय लिया था.  

यह भी पढ़े : कृष्णा नदी में मिली भगवान विष्णु की हजार साल पुरानी मूर्ति , दिखने में हुबहू रामलला जैसी

सीएम यादव का कहना है कि पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस मंदिर को श्रीलंका के दिवुरमपोला में बनाने की बात की थी. अब हम अपने उचित संसाधनो के आधार पर माता सीता के मंदिर के निर्माण पर जरूर पहल करेंगे. बता दें कि रामायण में जिस अशोक वाटिका की बात की गई है उसका प्रमाण श्रीलंका में मिलता है. नुवारा एलिया की पहाड़ियों में वो पवित्र स्थान भी है जहां माता सीता की अग्नि परीक्षा हुई थी. इस जगह पत्थर पर अग्निपरीक्षा स्थल लिखा है. पहाड़ियों पर हनुमान के चरण चिन्ह भी हैं. इन पहाड़ियो पर हनुमान के चरण चिन्ह् भी देखने को मिलते हैं जहा उन्होंने माँ सीता को अंगूठी प्रदान की थी. और इस जगह पर रिंग फेस्टिवल भी मनाया जाता है. यह त्योहार उसी आधार पर मनाया जाता है.

सीएम यादव का कहना है कि मध्य प्रदेश सरकार मां सीता के मंदिर बनाने के कई साल पूराने सपने को पूरा कर सकती है. अगर श्रीलंका सरकार इस मंदिर के निर्माण के लिए राजी हो जाती है तो इससे देश के धार्मिक पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा.  बता दें, मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के पास सांची के स्तूप है. यहां हर साल हजारों की संख्या में श्रीलंका से तीर्थयात्री आते हैं. श्रीलंका के दिवुरमपोला में सीता माता का मंदिर बनने पर भारत से तीर्थयात्री वहां जा सकेंगे.

Tami

Tamishree Mukherjee I am researching on Sanatan Dharm and various hindu religious texts since last year .