अच्चुतम केशवं कृष्ण दामोदरं लिरिक्स | Acchutam Keshavam Krishn Damodaram Lyrics

By Tami

Published on:

अच्चुतम केशवं

धर्म संवाद / डेस्क : भगवान की पूजा करने के बाद उनकी आरती करने से भगवान बेहद प्रसन्न होते हैं.आरती के वक़्त भजन गाने से इश्वर और भी प्रसन्न होते हैं.

यह भी पढ़े : भगवान शिव की आरती :ॐ जय शिव ओंकारा | Bhagwan Shiv Aarti : Om Jai Shiv Omkara

अच्चुतम केशवं कृष्ण दामोदरं,
राम नारायणं जानकी बल्लभम ।

कौन कहता हे भगवान आते नहीं,
तुम मीरा के जैसे बुलाते नहीं ।

अच्चुतम केशवं कृष्ण दामोदरं,
राम नारायणं जानकी बल्लभम ।

कौन कहता है भगवान खाते नहीं,
बेर शबरी के जैसे खिलाते नहीं ।

अच्चुतम केशवं कृष्ण दामोदरं,
राम नारायणं जानकी बल्लभम ।

कौन कहता है भगवान सोते नहीं,
माँ यशोदा के जैसे सुलाते नहीं ।

अच्चुतम केशवं कृष्ण दामोदरं,
राम नारायणं जानकी बल्लभम ।

कौन कहता है भगवान नाचते नहीं,
गोपियों की तरह तुम नचाते नहीं ।

अच्चुतम केशवं कृष्ण दामोदरं,
राम नारायणं जानकी बल्लभम ।

यह भी पढ़े : ॐ जय जगदीश हरे आरती लिरिक्स | Om Jay Jagdish Hare Aarti Lyrics

नाम जपते चलो काम करते चलो,
हर समय कृष्ण का ध्यान करते चलो ।

अच्चुतम केशवं कृष्ण दामोदरं,
राम नारायणं जानकी बल्लभम ।

याद आएगी उनको कभी ना कभी,
कृष्ण दर्शन तो देंगे कभी ना कभी ।

अच्चुतम केशवं कृष्ण दामोदरं,
राम नारायणं जानकी बल्लभम ।

Tami

Tamishree Mukherjee I am researching on Sanatan Dharm and various hindu religious texts since last year .